लोड हो रहा है...
के लिए प्रश्नोत्तरी: ज़कात के लिए आसान मार्गदर्शन (2 का भाग 2)

इस परीक्षा का परिणाम देखने के लिए और अपने क्विज़ स्कोर और समग्र प्रगति को बचाने के लिए, कृपया लॉग इन करें या यहां पंजीकरण करें.

1) सारा को अपनी शादी मे सोने का हार मिला है। उसने उस पर ज़कात एक साल के बाद एक बार दी। क्या उसे अब आने वाले वर्षों के लिए उस हार पर ज़कात देने से छूट मिलेगी?

2) यदि कोई मुसलमान किसी गैर-मुस्लिम को दान देना चाहता है तो उसे किस प्रकार का दान करना चाहिए?

3) ज़कात देने की नियत तारीख की गणना इसके अनुसार की जाती है:

4) हीरे और सोने के कंगन की जकात की गणना इस प्रकार होगी:

5) केवल विशिष्ट लोग ही ज़कात प्राप्त करने के हकदार हैं। उनकी संख्या कुल मिलाकर:

6) गरीब लोगों के संबंध में:

7) ज़कात व्यवस्थापकों को उनके काम के लिए ज़कात फंड से भुगतान किया जा सकता है ।

8) खालिद एक दयालु और परोपकारी मुसलमान होने के कारण अपनी कमाई का अधिकांश हिस्सा दान में देता था। जब ज़कात अदा करने का समय आया तो उसने पाया कि उसने ज़कात के रूप में गणना की गई राशि के बराबर दान में पहले ही दे दिया है। क्या उसके स्वैच्छिक दान को उसकी ज़कात के रूप में गिना जा सकता है?

इस परीक्षा का परिणाम देखने के लिए और अपने क्विज़ स्कोर और समग्र प्रगति को बचाने के लिए, कृपया लॉग इन करें या यहां पंजीकरण करें.

वर्तमान पाठ पर वापस जाने के लिए, यहां क्लिक करें:: ज़कात के लिए आसान मार्गदर्शन (2 का भाग 2)

अगले पाठ पर जाने के लिए और बाद में इस प्रश्नोत्तरी में भाग लेने के लिए, यहां क्लिक करें: पैगंबर मूसा के जीवन की झलकियां